जीत के लिए संतों का आर्शिवाद लेने पहंुचे आप नेता कर्नन कोठियाल

0
49

ऋषिकेश। आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व मुख्यमंत्री का चेहरा बने कर्नल अजय कोठियाल अब संतों की शरण में हैं। उन्होंने हरिपुर कलां क्षेत्र में विभिन्न संत-महंतों और महामंडलेश्वरों से मिशन 2022 के लिए जीत का आशीर्वाद लिया। इस दौरान उन्होंने देवभूमि उत्तराखंड को आध्यात्मिक राजधानी बनाए जाने के लिए संतों से सुझाव भी लिए।
इस अवसर पर कर्नल कोठियाल ने सभी महात्माओं को केदारनाथ धाम त्रासदी के प्रतीक चिह्न के रूप में बनाये गए शिवलिंग एवं त्रिशूल भेंट किये।
हरिपुर कला पहुंचकर सबसे पहले कर्नल कोठियाल ने भारत माता मंदिर के महंत एवं पंचायती निरंजनी अखाड़े के महामंडलेश्वर स्वामी ललितानंद गिरी से भेंटवार्ता की। उसके बाद वह हरिसेवा आश्रम के परमाध्यक्ष महामंडलेश्वर स्वामी हरिचेतनानंद, भारत साधु समाज के अध्यक्ष महंत विद्यानंद सरस्वती से भी मिले। उनसे उत्तराखंड को आध्यात्मिक राजधानी बनाए जाने को लेकर मंत्रणा की। इस अवसर पर कोठियाल ने कहा कि उत्तराखंड को विश्व के हिंदुओं की आध्यत्मिक राजधानी बनाना श्आपश् का सपना है। इसे मिशन 2022 के पूर्ण होते ही साकार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि देश का संत समाज सनातन परंपराओं का बखूबी निर्वहन कर रहा है। राष्ट्र के निर्माण में संतों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. समाज में भटके हुए लोगों को सद्मार्ग संत ही दिखाते हैं. सामाजिक विकृतियों को दूर करने के लिए संतों को आगे आना होगा। तभी समाज से कुरीतियां साफ होंगी। उन्होंने कहा जब-जब समाज में कुरीतियां बढ़ी हैं, ऐसे समय में सामाजिक समरसता के लिए संत समाज ही आगे आया है। संत सेवा करते हैं और उसका फल सभी को मिलता है.रिटायर्ड कर्नल कोठियाल ने कहा कि हमें अपने महापुरुषों, ऋषियों व संतों द्वारा दिखाये गये मार्ग पर चलकर राष्ट्र व समाज को और अधिक मजबूत बनाना है। उनके दिखाये गये पदचिह्नों पर चलने के लिए स्वयं तथा दूसरों को भी प्रेरणा देनी है।