बड़ा हादसाः मकान की छत गिरने से महिला की मौत, चार लोग मलबे में दबे

0
51

अल्मोड़ा। सोमेश्‍वर तसहसील सुतोली गांव में मकान की छत देर रात भराभरा कर गिर गई। हादसे में मलबे में दबने के कारण एक महिला की मौत हो गई। जबकि चार स्‍वजनों को को देर रात ही ग्रामीणों की मदद से मलबे से निकाल कर अस्‍पताल पहुंचाया गया। मलबे में दबकर घायल होने वालों में मृतका का पति, उसके दो बच्‍चे और मां शामिल हैं। घटना के बाद गांव में हड़कंप मचा हुआ है।
मामला बीती बुधवार रात 11 बजे बाद का है। जिला मुख्यालय से लगभग 45 किमी दूर सुतोली गांव (ताड़ीखेत ब्‍लॉक) निवासी प्रकाश राम पुत्र मदन राम रात्रि भोजन करने के बाद सो गए। अलसायी रात में पुरानी पत्थर शैली में बने मकान की छत अचानक भरभरा कर गिर गई। गहरी नींद में होने के कारण किसी को संभलने का मौका नहीं मिला। मलबे का बड़ा हिस्सा वहां गिरा जहां प्रकाश राम की पत्नी राधा देवी (25) सोई थी। प्रकाश राम व अन्य स्वजन भी मलबे में दब गए। मकान ध्वस्त होने का गांव में जिसे पता लगा वह घटना स्‍लल की तरफ दौड़ पड़ा। ग्रामीण खुद ही मलबा हटाने में जुट गए। स्थानीय पुलिस प्रशासन की टीम राहत व बचाव दल लेकर पहुंचा। मलबे में दबे लोगों को बमुश्किल बाहर निकाला गया। सभी को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद सोमेश्वर लेल जाया गया। आपातकालीन ड्यूटी पर तैनात डा. दीपिका रानी व डा. अक्षय ने राधा देवी को मृत घोषित कर दिया। डा. आंनद नारायण तिवारी, नर्स मीना, फारमसिस्ट गोपाल गोस्वामी आदि घायलों के उपचार में जुटे रहे। मध्यरात्रि में गंभीर रूप से घायल प्रकाश राम, उसकी मां व दो बच्चों को बेस चिकित्सालय रेफर किया गया। वहीं तहसीलदार अक्षय कुमार भट्ट, एसओ राजेंद्र सिंह बिष्ट मय टीम देर रात तक ग्रामीणों के साथ राहत कार्यों में डटे रहे।