अपनी मांगों को लेकर दिव्यांगों ने किया सीएम आवास कूच

0
55

देहरादून। उत्तराखंड दिव्यांग सशक्तिकरण एसोसिएशन के बैनर तले अपनी मांगों को लेकर दिव्यांगों ने सीएम आवास कूच किया। लेकिन पुलिस बल ने हाथीबड़कला में सभी प्रदर्शनकारियों को बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। बता दें कि दिव्यांग जनों ने ऐलान किया था कि सोमवार शाम तक यदि सरकार ने उनकी मांगें नहीं मानी तो वे मंगलवार को आक्रोश रैली निकालकर विरोध करेंगे।
दिव्यांगों का कहना है कि यदि सरकार उनकी मांगों को लेकर कोई लिखित आश्वासन देती है तो इस रैली का नाम बदलकर आभार रैली में परिवर्तित कर दिया जाएगा। उत्तराखंड दिव्यांग सशक्तिकरण एसोसिएशन के बैनर तले दिव्यांग जन सीएम आवास घेराव करने के लिए परेड ग्राउंड में एकत्रित हुए। उसके बाद जुलूस की शक्ल में एश्ले हॉल चौक दिलाराम चौक से होते हुए हाथीबड़कला पहुंचे। जहां मौजूद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को बैरिकेडिंग लगाकर रोक दिया। रोके जाने से नाराज प्रदर्शनकारी वहीं, धरने पर बैठ गए और अपनी मांगों को लेकर नारेबाजी करने लगे। उत्तराखंड दिव्यांग सशक्तिकरण एसोसिएशन के अध्यक्ष अमित डोभाल ने कहा कि दिव्यांग जनों की मासिक पेंशन 12 सौ से बढ़ाकर 35 सौ रुपए की जाए। सरकारी विभागों में दिव्यांग जनों के रिक्त पदों पर दिव्यांग बैकलॉग भर्ती शीघ्र की जाए। इसके साथ ही दिव्यांग जनों को रोजगार के लिए ब्याज रहित ऋण दिया जाए और नियमों में सरलता बरती जाए। प्रदर्शन में शामिल दिव्यांग जनों ने कहा कि सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से ने हमारी मांगों पर विचार कर उचित समाधान निकालने का आश्वासन दिया था, लेकिन उन्हें कोई लिखित आश्वासन नहीं दिया गया। जिससे प्रदेशभर के दिव्यांग जनों में आक्रोश व्याप्त है। दिव्यांगों ने सरकार को चेतावनी दी कि जब तक उनकी मांगों का निस्तारण नहीं होता है, तब तक उनका प्रदर्शन ऐसे ही जारी रहेगा।