काबुल एयरपोर्ट पर भारी भीड़, जबरदस्त फायरिंग, मची अफरा-तफरी

0
56

काबुल। अफगानिस्तान में फिर से तालिबान का कब्जा होने से लगातार हालात बदल रहे हैं। देश की राजधानी काबुल से भागने के लिए बेताब करोड़ों लोगों ने काबुल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर जाम लगा दिया। हालांकि तालिबान ने शांति बनाए रखने का वादा किया। अफगानिस्तान में लगातार नए-नए घटनाक्रम सामने आ रहे है। इसबीच अमेरिका के विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि अफगानिस्तान से अपने लोगों को निकालने के बीच काबुल में अमेरिकी दूतावास से अमेरिकी झंडा उतार लिया गया है। अधिकारी ने बताया कि दूतावास के लगभग सभी अधिकारियों को शहर के अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पहुंचा दिया गया है, जहां पर हजारों अमेरिकी और अन्य लोग विमानों का इंतजार कर रहे हैं। अधिकारी ने बताया कि अमेरिकी झंडा दूतावास के अधिकारियों में से एक के पास है। अगले दो दिन में अमेरिका के 6,000 सुरक्षाकर्मी वहां मौजूद होंगे और वे हवाई यातायात नियंत्रण अपने कब्जे में ले लेंगे. बीते दो हफ्तों में विशेष वीजा धारक करीब 2,000 लोग काबुल से अमेरिका पहुंच चुके हैं। काबुल में एयरपोर्ट पर जबरदस्त फायरिंग हुई है। इस फायरिंग के बाद एयरपोर्ट पर अफरा-तफरी का माहौल देखने को मिला। तालिबान के कब्जे के बाद अमेरिका जैसा देश भी बेबस नजर आ रहा है। .भारत भी अपने नागरिकों को अफगानिस्तान से निकालने में जुटा है। सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने एअर इंडिया से दो विमान रिजर्व पर रखने को कहा है, ताकि काबुल से लोगों को निकाला जा सके। काबुल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर अब कमर्शियल फ्लाइट्स की उड़ान रोक दी गई है, यहां पर फायरिंग हो रही है। बड़ी संख्या में लोग देश छोड़ने की कोशिश में हैं, लेकिन हवाई जहाजों की उड़ान रुकने से अब वह अधर में फंस गए हैं।