निर्धारित विक्रय मूल्य से अधिक वसूली को लेकर संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन

0
47
निर्धारित विक्रय मूल्य से अधिक वसूली को लेकर संयुक्त मजिस्ट्रेट को ज्ञापन

 

रानीखेत (सतीश जोशी): छावनी परिषद् द्वारा आवंटित माँस-मछली की दुकान पर निर्धारित दरों से अधिक वसूली को लेकर स्थानीय लोगों ने रोष व्यक्त करते हुए संयुक्त मजिस्ट्रेट को शिकायती पत्र देकर आवशयक कार्यवाही की माँग की है। सामाजिक कार्यकर्ता कुलदीप राणा ने मंगलवार को संयुक्त मजिस्ट्रेट जय किशन को माँस मछली की दुकान पर ग्राहकों से मनमाने रेट वसूलने पर रोष व्यक्त किया। संयुक्त मजिस्ट्रेट को दिए गए शिकायती पत्र में लोगों का कहना है कि छावनी परिषद द्वारा आवंटित माँस की दुकान पर एकाधिकार होने के कारण दुकान स्वामी स्थानीय लोगों से छावनी द्वारा निर्धारित मूल्य से अधिक मनमाने पैसा वसूला जा रहा है। लोगों द्वारा विरोध किए जाने पर दुकान के कर्मचारियों द्वारा छावनी परिषद को 4 लाख रूपया प्रति माह किराया देने की धमकी दी जाती है। यह लोग विरोध करने पर ग्राहकों के दुर्व्यहार तक करने से बाज नहीं आ रही हैं। सामाजिक कार्यकर्ता कुलदीप सिंह राणा ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को उक्त मामले पर उचित कार्यवाही कर लोगों को राहत पहुंचाने की अपील की है। पत्र में दर्जनों लोगों के हस्ताक्षर अंकित हैं। संयुक्त मजिस्ट्रेट ने मामले की जाँच कर कार्यवाही का आश्वासन दिया है।