चुनाव आयोग के अधिकारिक आंकड़ेःकौन सबसे अधिक वोटों से जीता और सबसे कम

0
43

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे कई मायनों में चौंकाने वाले माने जा रहे हैं। मुख्यमंत्री पुष्कर धामी का अपनी खटीमा सीट से हारना रहा हो या पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत का इस बार लालकुआं सीट से हार जाना, कई दिग्गजों की साख दांव पर थी, जिनमें से कांग्रेस के तो कुछ ही इसे बचा सके। इसके बरक्स जीतने वाले प्रत्याशियों के चेहरों ने भी चौंकाया तो जीत के मार्जिन ने भी. देहरादून ज़िले के मैदानी विधानसभा क्षेत्र रायपुर सीट से भाजपा के टिकट पर उमेश शर्मा काउ ने 30 हज़ार से ज़्यादा वोटों से जीत दर्ज करके उत्तराखंड के इस चुनाव में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बनाया।
काउ ने निकटतम प्रत्याशी रहे कांग्रेस के हीरा सिंह बिष्ट को जबरदस्त अंतर से हराया। रायपुर सीट पर काउ के मुकाबले में आप के प्रदेश अध्यक्ष नवीन पिरशाली भी चुनाव मैदान में थे। काउ उन नेताओं में शुमार रहे हैं, जो 2017 के विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। वहीं, काउ को भाजपा सरकार में मंत्री रहे हरक सिंह रावत का करीबी भी माना जाता रहा, लेकिन हरक सिंह रावत को भाजपा से निकाले जाने के बाद उन्होंने भाजपा के साथ अपना स्टैंड ज़ाहिर कर दिया था। यहां चुनाव आयोग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक ये आंकड़े देखिए.ः-

 

सबसे बड़े मार्जिन वाली टॉप 5 जीत
रायपुर सीट: उमेश शर्मा काउ बनाम हीरा सिंह बिष्ट मुकाबले में 30052 वोटों से जीत.
डोईवाला सीट: बृजभूषण गैरोला बनाम गौरव गिन्नी मुकाबले में 29021 वोटों से जीत.
कालाढूंगी सीट: बंशीधर भगत बनाम महेश चंद्रा मुकाबले में 23931 वोटों से जीत.
देहरादून कैंट सीट: सविता कपूर बनाम सूर्यकांत धस्माना मुकाबले में 20938 वोटों से जीत.
रुद्रपुर सीट: शिव अरोड़ा बनाम मीना शर्मा मुकाबले में 19750 वोटों से जीत.

 

सबसे छोटे मार्जिन वाली 5 जीत
अल्मोड़ा सीट: मनोज तिवारी बनाम कैलाश शर्मा मुकाबले में सिर्फ 127 वोटों से जीत.
द्वाराहाट सीट: मदन सिंह बिष्ट बनाम अनिल सिंह शाही मुकाबले में 182 वोटों से जीत.
श्रीनगर गढ़वाल सीट: धनसिंह रावत बनाम गणेश गोदियाल मुकाबले में 587 वोटों से जीत.
मंगलौर सीट: सरवत करीम बनाम काज़ी निज़ामुद्दीन मुकाबले में 598 वोट

ों से जीत.
टिहरी सीट: किशोर उपाध्याय बनाम दिनेश धनई मुकाबले में 951 वोटों से जीत.