पत्नी और सास के हत्यारे ने ट्रेन से कटकर की आत्महत्या

0
187

काशीपुर।जसपुर में दूसरी पत्नी और सास की हत्या के आरोपी सोनू ने उप्र के गाजियाबाद में ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने के बा उत्तराखंड पुलिस सोनू का शव अपने कब्जे में लेने के लिए गाजियाबाद रवाना हो गई है।
पुलिस से मिली जानकरी के अनुसार सोनू की अय्याशी में उसकी दूसरी पत्नी और सास रोड़ा बन रही थी। इसीलिए उन दोनों को रास्ते से हटाने के लिए सोनू ने दो दिन पहले उनकी हत्या कर दी। .सोनू (35) जसपुर के मोहल्ला नत्था सिंह में ठाकुर मंदिर से सटे पंडो वाले कुएं के पास रहता था। सोनू ने दो दिन पहले अपनी पत्नी निशु (35) और सास जयंती देवी (55) की धारदार हथियार से हत्या कर दी थी। निशु ने अपनी बहन पिंकी को बताया था कि सोनू का एक लड़की के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। कुछ दिन पहले उस लड़की के साथ सोनू को घर में रंगे हाथों पकड़ा था। जिसके बाद पति पत्नी के बीच विवाद हुआ था। तब सोनू ने निशु को मारा पीटा भी था.। पिंकी के अनुसार निशु पुलिस में रिपोर्ट करने जा रही थी तो सोनू ने उसे रोक दिया था और हाथ पैर जोड़कर माफी मांग ली थी। लेकिन इसके बाद भी सोनू अपनी हरकतों से बाज नहीं आया था और निशु ने उसे एक बार फिर उसकी प्रेमिका के साथ रंगे हाथों पकड़ लिया था। इसके बाद निशु और उसकी मां जयंती देवी सोनू के पीछे पड़ गई थी। बाद में सोनू ने आपा खोकर निशु और उसकी मां जयंती देवी की हत्या कर दी थ। .वारदात को अंजाम देने के बाद सोनू ने अपने बच्चों को किसी परिचित के यहां छोड़कर यूपी के अमरोहा में रहने वाली अपनी बहन को फोन किया। फोन पर सोनू ने बहन को बताया कि उसने अपनी पत्नी और सास को मार दिया है, इसके बाद वो वहां से फरार हो गया है।
मंगलवार सुबह सोनू की लाश गाजियाबाद के कविनगर में रेलवे लाइन के पास मिली है। मृतक के पास पुलिस को उसका आई कार्ड मिला है, जिसके आधार पर उसकी शिनाख्त हुई। गाजियाबाद पुलिस ने जसपुर संपर्क किया तो पता चला कि सोनू अपनी पत्नी और सास की हत्या कर फरार हो गया था। पुलिस अधीक्षक चंद्रमोहन सिंह में फोन पर सोनू के ट्रेन से कटने की सूचना की पुष्टि की और कहा कि सोनू के शव को अपने कब्जे में लेने के लिए जसपुर पुलिस गाजियाबाद रवाना हो गई है।